ओलम्पिक का सफर-3

तीसरा ओलम्पिक अपनी उपलब्धियों के लिए कम, अपनी गड़बडियों के लिए अधिक जाना जाता रहा है। यह आयोजन साढ़े चार माह तक चला था.

पहली बार

इस ओलम्पिक में पहली बार किसी भी एथलीट को स्वर्ण पदक प्रदान किया गया।

मैराथन धावक लेन तू और जैमिनी मिशेनी ओलम्पिक में भागीदारी करने वाले पहले अश्वेत खिलाड़ी बने।

ओलम्पिक मेले का प्रचार करने के लिए पहली बार पोस्टरों का उपयोग किया गया. इन पोस्टरों में स्टेडियम को केन्द्र में रख कर इनकी रचना की गई थी.

अद्भुत फर्राटा चैम्पियन

अमरीकी एथलीट आर्ची हान ने साठ, सौ और दो सौ मीटर की फर्राटा दौड़ में अव्वल स्थान प्राप्त किया। 200 मीटर रेस में 21.6 सेकंड का उनका रिकार्ड 28 साल बाद टूटा था.

जीवट का धनी

अमेरिकी एथलीट जोर्ज आइसर को सबसे अधिक लोकप्रियता प्राप्त हुई। उसका कारण था उनके एक पैर से विकलांग होने के बाद भी पैरलल बार, रोप क्लैम्बिंग और वाल्ट में तीन स्वर्ण सहित कुल सात पदक जीतना. उनका एक पैर लकडी का था.

कमाल

अमेरिका के राल्फ रोज ने कुल तीन पदक जीते. एक पहले स्थान के लिए शाट पुट में, एक दूसरे स्थान के लिए डिस्कस थ्रो में और एक पदक तीसरे स्थान के लिए हैमर थ्रो में.

Comments

  1. आभार जानकारी के लिए.

    ReplyDelete

Post a Comment